Tuesday, 8 May 2018

राजा दुर्लभराज चौहान तृतीय- सांभर (शाकम्भरी) 1079 ई.

राजा दुर्लभराज चौहान तृतीय- सांभर (शाकम्भरी) 1079 ई.



डॉ. दशरथ शर्मा के अनुसार दुर्लभराज ने गजनी सुल्तान इब्राहीम से 1079 ई. में युद्ध कर देश रक्षा में वीरगति प्राप्त की थी | (Early Chauhan dynasties) श्रीधर कवि रचित पाश्र्वनाथ चरित (1132 ई.) में कहा गया है कि दिल्ली के राजा अनंगपाल तोमर ने सुल्तान की हराया । 

संभव है, यह सुल्तान गजनी का इब्राहीम था । आसराज चौहान ने मुसलमानों से घिरे अपने भाई नाडोल के राजा पृथ्वीपाल चौहान को बचाया था । आसराज के साले हरिपाल ने मुसलमानों के प्यासे घोड़ों को पानी नहीं पीने दिया । उपरोक्त दोनों वर्णन ताम्रपत्रों से प्राप्त हैं और इतिहासकार डॉ. दशरथ शर्मा के अनुसार यह गजनी सुलतान इब्राहीम के 1079 ई. में आक्रमणों से सम्बन्धित है । (Early Chauhan dynasties)

No comments

Post a Comment