Tuesday, 15 July 2014

शेर खाँ पठान !

शेखा जी के बाद अमरसर गद्दी पर राव रायमल जी बैठे ।
जिस शेर खाँ पठान ने हिन्दुस्तान में हलचल मचा दी थी और शेरशाह का नाम धारण कर हिन्दुस्तान के शाही तख्त पर बैठा था ।
उसका दादा इब्राहीम मेवात जिले के परगने नारनोल के "शिमला"(खेतङी) नाम गाँव में रहता था, और सौदागर था ।
शेरशाह का पिता हसन रायमल जी के यहाँ सिपाही कि नौकरी करता था ।

No comments

Post a comment